ALL देश दुनिया खेल मनोरंजन व्यापार/मनी धर्म/ राशि जीवन संवाद तकनीक करियर लाइव टीवी
दिल्ली हिंसा में 20 हुई मरने वालों की संख्या, गोकुलपुरी में फूंकी दुकान
February 26, 2020 • Damodar Singh • देश

नागरिकता संशोधन एक्ट (CAA) के नाम पर दिल्ली की सड़कों पर शुरू हुआ बवाल अभी तक थमा नहीं है. पिछले तीन दिनों में देश की राजधानी दिल्ली के कई इलाकों में हिंसा  हुई है, जिसमें अभी तक 20 लोगों की जान चली गई है. बुधवार सुबह भी दिल्ली के गोकुलपुरी इलाके में हिंसक प्रदर्शन हुआ, यहां पर कुछ उपद्रवियों ने एक दुकान में आग लगा दी.

दिल्ली से जुड़े बड़े अपडेट:

 दिल्ली में हिंसा में हुई मौतों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है. मंगलवार को ये आंकड़ा 13 था, लेकिन अब बुधवार सुबह 11 बजे ये आंकड़ा 20 हो गया है. गुरु तेग बहादुर अस्पताल की ओर से हिंसा में हुई मौतों का आधिकारिक आंकड़ा जारी किया गया है.


दिल्ली की मौजूदा स्थिति पर काबू पाने के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल को खुली छूट दी गई है. अजित डोभाल अब से कुछ देर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कैबिनेट को दिल्ली हिंसा की जानकारी देंगे. मंगलवार शाम को अजित डोभाल दिल्ली के कई इलाकों में भी गए थे.

 दिल्ली के गोकुलपुरी इलाके में बुधवार सुबह स्क्रैप मार्केट की एक दुकान में आग लगा दी गई. चश्मदीदों का कहना है कि यहां पर कुछ लोग आए और आग लगाकर भाग गए. उपद्रवियों ने स्क्रैप मार्केट की दुकान नंबर 15 में आग लगाई गई है.

दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान शहीद हुए पुलिस हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल का परिवार धरने पर बैठ गया है. परिवार की मांग है कि रतनलाल को शहीद का दर्जा दिया जाए. दिल्ली के भजनपुरा में हुई हिंसा के दौरान रतनलाल की मौत हो गई थी, वो राजस्थान के सीकर के रहने वाले थे. बुधवार को उनके परिवार ने पैतृक गांव जाने वाले रास्ते पर जाम लगा दिया.

 दिल्ली हिंसा में मारे गए लोगों की संख्या बढ़ गई है. बुधवार सुबह गुरु तेग बहादुर अस्पताल के द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, अभी तक दिल्ली हिंसा में 18 लोगों की जान जा चुकी है. इनमें एक पुलिस कॉन्स्टेबल भी शहीद हुआ है. अस्पताल ने अपने बयान में कहा है कि चार मृत लोगों को बुधवार सुबह ही लाया गया.


सोमवार और मंगलवार को उत्तर पूर्वी दिल्ली के मौजपुर-चांदबाग इलाके में हालात इतने बेकाबू हुए कि दिल्ली पुलिस को मार्च निकालना पड़ा. पुलिस ने इस बवाल के बीच जाफराबाद में जारी CAA विरोधी धरना स्थल को खाली करवा दिया है. दिल्ली में हुई हिंसा के मसले पर आधी रात को हाई कोर्ट में सुनवाई भी हुई.

दिल्ली पुलिस सतर्क, चार क्षेत्रों में कर्फ्यू

पिछले दो दिनों में उत्तर पूर्व दिल्ली के कई क्षेत्रों से पत्थरबाजी, आगजनी और तोड़फोड़ की घटनाएं सामने आईं. अब एहतियात के तौर पर दिल्ली में जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर और चांदबाग इलाके में कर्फ्यू लगा दिया गया है और लोगों को बेवजह बाहर ना निकलने की हिदायत दी जा रही है.

दिल्ली के इन इलाकों में कर्फ्यू-

•    जाफराबाद

•    मौजपुर

•    बाबरपुर

•    चांदबाग

 

पुलिस का एक जवान शहीद, 56 घायल

दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता मनदीप सिंह रंधावा के मुताबिक, अभी तक दिल्ली हिंसा में 130 आम लोग घायल हुए हैं, जबकि 56 पुलिसकर्मियों को चोट पहुंची है. पुलिस ने अभी तक 11 एफआईआर दर्ज कर ली है और उपद्रवियों की पहचान की जा रही है. दिल्ली की हिंसा में पुलिस का एक जवान शहीद भी हुआ है, जबकि दो IPS अफसर घायल हुए हैं.

देश की राजधानी हिंसा में इतना तनाव है तो केंद्र सरकार भी एक्शन में आई है. मंगलवार को दिन में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और अन्य अधिकारियों के साथ बैठक की, तो वहीं देर शाम को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल दिल्ली की सड़कों पर निकले. अजित डोभाल ने सीलमपुर, भजनपुरा, यमुना विहार का दौरा किया और स्थानीय लोगों-अधिकारियों से चर्चा की.

दिल्ली में हिंसा के चलते CBSE ने बुधवार को होने वाली 10वीं और 12वीं के एग्जाम कैंसिल कर दिए हैं. उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि हिंसा प्रभावित नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में आज स्कूल बंद रहेंगे. साथ ही CBSE से भी आज होने वाली बोर्ड परीक्षा स्थगित करने का अनुरोध किया. फिर आज की परीक्षा कैंसल कर दी गई.