ALL देश दुनिया खेल मनोरंजन व्यापार/मनी धर्म/ राशि जीवन संवाद तकनीक करियर लाइव टीवी
'गोली मारो...' वाले नारे पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बोलीं, यह दिल्ली नहीं है '
March 2, 2020 • Damodar Singh • देश

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में होम मिनिस्टर अमित शाह की रैली के दौरान बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा 'गोली मारो' वाले नारे लगाने पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि यह दिल्ली नहीं है, कोलकाता है और 
ऐसे नारों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मैं उन लोगों की निंदा करती हूं जिन्होंने कोलकाता की सड़कों पर “गोली मारो...” के नारे लगाए और कानून अपना काम करेगा।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि दिल्ली की हिंसा नरसंहार थी, मासूम लोगों की हत्या से अत्यंत दुखी हूं। बीजेपी पश्चिम बंगाल समेत पूरे देश में 'दंगों का गुजरात मॉडल' लागू करने की कोशिश कर रही है।

कोलकाता पुलिस ने सोमवार को दावा किया कि उसने केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह की रैली में जाते समय कथित रूप से 'देश के गद्दारों को, गोली मारो...' नारे लगाने वाले बीजेपी के तीन कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है। कोलकाता पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, 'भड़काऊ नारे लगाने की यह हरकत भाजपा समर्थकों ने की थी। यह संज्ञेय अपराध है।'

आरोपियों ने रैली स्थल शहीद मीनार मैदान में जाते समय एस्प्लेनेड मार्ग पर मैदान बाजार से गुजरते समय नारेबाजी की थी। अधिकारी ने बताया कि एक व्यक्ति ने रविवार को नया बाजार थाने में शिकायत दर्ज कराई, जिसके आधार पर इन तीनों को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने कहा कि उनकी पहचान ध्रुव बसु, पंकज प्रसाद और सुरेन्द्र कुमार तिवारी के रूप में हुई है। उन्हें रविवार देर रात गिरफ्तार किया गया।

आईपीएस अधिकारी ने कहा, 'उनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की दो गैर-जमानती धाराओं समेत चार धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। उन्हें आज अदालत में पेश किया जाएगा।' यह घटना सामने आने के बाद रविवार को भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई की तीखी आलोचना हुई थी।  हालांकि भाजपा नेताओं ने इस घटना में पार्टी के किसी भी कार्यकर्ता की संलिप्तता से इनकार करते हुए इसे तृणमूल कांग्रेस की कारस्तानी बताया था।