ALL देश दुनिया खेल मनोरंजन व्यापार/मनी धर्म/ राशि जीवन संवाद तकनीक करियर लाइव टीवी
कोरोना वायरस: स्वास्थ्यमंत्री हर्षवर्धन ने संसद में बताया, देश में 28529 लोगों पर नजर
March 5, 2020 • Damodar Singh • देश

नई दिल्ली
कोरोना वायरस कितना बड़ा खतरा है और इसको लेकर सरकार क्या-क्या कर रही है, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने संसद में विस्तार से जवाब दिया है। उन्होंने राज्यसभा में कहा कि अभी तक देश में 29 लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं, जिनमें से 3 ठीक हो चुके हैं और अन्य का इलाज चल रहा है। 4 मार्च तक कुल 28529 लोगों को कम्युनिटी सर्विलांस पर रखा गया है। हर्षवर्धन ने कहा कि पीएम मोदी, वह खुद और मंत्री समूह लगातार निगरानी में जुटे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि भारत सरकार ने WHO की ओर से दिशा निर्देश जारी करने से पहले तैयारी शुरू कर दी थी।

सभी मरीजों की हालत स्थिर
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि 3 केस में रिकवरी हो चुकी है। पिछले तीन दिनों में नए मामले सामने आए हैं। 1 केस दिल्ली में सामने आया जो जो इटली से आया था। 1 व्यक्ति हैदराबाद में संक्रमित पाया गया जो दुबई से लौटा है। 6 लोग आगरा में संक्रमित पाए गए, जो दिल्ली के मरीज के संपर्क में आए थे। इटली के पर्यटक और उनकी पत्नी राजस्थान में भर्ती हैं, इनके साथ के 14 अन्य सदस्य और 1 भारतीय ड्राइवर भी कोरोना से संक्रमित हैं। एक अन्य युवक कल दिल्ली में संक्रमित मिला है जो इटली से आया था। सभी की हालत स्थिर है।

पीएम कर रहे हैं निगरानी

स्वास्थ्य मंत्री ने सरकारी की तैयारी का जिक्र करते हुए कहा कि सरकार इसकी रोकथाम के लिए हर प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि पीएम खुद इसकी निगरानी कर रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि भारत सरकार ने इसे रोकने के लिए कई कदम उठाए हैं। मैं हर दिन समीक्षा कर रहा हूं। एक मंत्रीसमूह बनाया गया है। 3 फरवरी के गठन के बाद इसकी चार बैठक हो चुकी है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कै कि WHO ने कोरोना वायरस को पब्लिक हेल्थ इमर्जेंसी घोषित किया है हालांकि इसे महामारी नहीं घोषित किया है। भारत ने 17 जनवरी से तैयारी शुरू कर दी थी, तब WHO ने सलाह जारी नहीं की थी।

इन देशों में ना जाने की सलाह
स्थिति के मुताबिक ट्रेवल अडवाइजरी में बदलाव किया जा रहा है। ईटली, ईरान, साउथ कोरिया, जापान के उन सभी यात्रियों 3 मार्च 2020 तक जारी वीजा स्थगित कर दिया गया है, जिन्होंने भारत में प्रवेश नहीं किया है। चीन से आने वाले लोगों का वीजा भी 5 फरवरी से स्थगित किया जा चुका है। चीन, ईरान, इटली, साउथ कोरिया, जापान जा चुके सभी विदेशी यात्रियों का वीजा भी सस्पेंड कर दिया गया है। यूनाइडेट नेशंस के डिप्लोमैट्स और ओसीआई कार्ड होल्डर्स और एयर क्रू को छूट दी गई है, लेकिन उन्हें जांच के बाद ही भारत में प्रवेश दिया जाएगा। सभी देशों से आ रहे लोगों से उनका पूरा ब्योरा लिया जा रहा है। भारतीय नागरिकों को चीन, ईरान, कोरिया, इटली और जापान ना जाने की सलाह दी जाती है। कोविड-19 प्रभावित अन्य देशों में भी अनावश्यक यात्रा से बचें। 21 एयरपोर्ट्स पर विदेशों से आने वाले यात्रियों की जांच की जा रही है।

सीमांत इलाकों में लोगों की जांच

स्वासथ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि पड़ोसी देशों से जुड़े इलाकों में जांच की जा रही है और लोगों को जागरूक किया जा रहा है। यूपी, बिहार, बंगाल, असम के सीमांत इलाकों में नजर रखी जा रही है। ग्राम सभा की मदद ली जा रही है। 11 लाख लोगों की जांच हो चुकी है।