ALL देश दुनिया खेल मनोरंजन व्यापार/मनी धर्म/ राशि जीवन संवाद तकनीक करियर लाइव टीवी
पाक में 'मेरा जिस्म, मेरी मर्जी' अभियान निशाने पर, लाइव शो में महिला गेस्ट को अपशब्द कहने पर बवाल
March 5, 2020 • Damodar Singh • दुनिया


पाकिस्तान के जानेमाने लेखक खलील-उर-रहमान का एक विडियो वायरल हो रहा है, जिसके लिए उनकी कड़ी आलोचना की जा रही है। दरअसल, पाकिस्तान में एक टीवी चैनल पर लाइव डिबेट में खलील ने महिला पैनलिस्ट को गालियां दीं और आपत्तिजनक टिप्पणी की। इस विडियो के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद उन्हें इंटरनेट पर जमकर लताड़ा जा रहा है।

शो में महिला गेस्ट के तौर पर जानी-मानी नारीवादी, ऐक्टिविस्ट और विश्लेषक मारवी सिरमद फोन से जुड़ी थीं। इसी दौरान लेखक खलील-उर-रहमान ने उन्हें अपशब्द कह डाले। गौर करने वाली बात कि यह डिबेट पाकिस्तान में चल रहे 'मेरा जिस्म, मेरी मर्जी' अभियान पर थी। पाक में इन दिनों महिलाएं अपने अधिकारों और हक के लिए देशभर में मार्च निकाल रही हैं। इस मार्च को औरत मार्च नाम दिया गया है। खलील ने डिबेट में कहा, 'मेरा जिस्म, मेरी मर्जी जैसे नारे पर अदालत ने रोक लगा दी है। लेकिन जब मैं मारवी जैसे लोगों से यह नारा सुनता हूं तो मेरा कलेजा हिल जाता है।'

डिबेट के विडियो में देखा जा सकता है कि खलील के इतना कहते ही मारवी ने मेरा जिस्म, मेरी मर्जी का नारा लगा दिया। बस फिर क्या था, मारवी के इतना कहते ही खलील बुरी तरह भड़क गए और उन्हें अपशब्द कहने लगे। खलील ने कहा, 'तेरा जिस्म है क्या, कोई थूकता तक नहीं तुझ पर। बीच में मत बोल, अपना मुंह बंद रख।'

अब इस विवादित विडियो के वायरल होने पर जाने-माने लोगों की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। मशहूर पाक अभिनेत्री माहिरा खान ने खलील-उर-रहमान पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया, 'जो कुछ मैंने अभी देखा और सुना, उसे सुनकर मैं सदमे में हूं। हद दर्जे का बीमार है। टीवी पर एक महिला को गाली देने के बावजूद आखिर किस वजह से इस शख्स को एक के बाद एक प्रॉजेक्ट मिलते जा रहे हैं। अगर हम इस तरह की सोच को खत्म नहीं कर पा रहे हैं तो हम भी उतने ही दोषी हैं।' अब सोशल मीडिया पर लेखक खलील-उर-रहमान के समर्थकों और विरोधियों में बहस छिड़ी हुई है।

इससे पहले टीवी शो के विडियो को ट्वीट कर मारवी ने लिखा, 'किसी सभ्य मीडिया इंडस्ट्री में अगर इस तरह की बयानबाजी हुई होती, तो उसका बहिष्कार हो चुका होता। लेकिन यह हमारा प्यारा इस्लामिक गणराज्य है। बुरा व्यवहार करने वाले पर किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं होगी। हर मीडिया हाउस इसी तरह उसका स्वागत करेगा।'