ALL देश दुनिया खेल मनोरंजन व्यापार/मनी धर्म/ राशि जीवन संवाद तकनीक करियर लाइव टीवी
यूपी में कोरोना का खौफ, अबतक 11 केस, 22 मार्च तक सभी स्कूल-कॉलेज बंद
March 13, 2020 • Damodar Singh • देश

लखनऊ
कोरोना वायरस की दहशत यूपी के कई शहरों तक पहुंच चुकी है। योगी सरकार ने कोरोना वायरस के चलते सभी स्कूल-कॉलेज 22 मार्च तक बंद करने का आदेश जारी किया गया है। राजधानी लखनऊ में अधिकारियों के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बैठक में यह फैसला लिया है। इस फैसले पर 20 मार्च को समीक्षा होगी जिसके बाद आगे का फैसला लिया जाएगा। योगी सरकार ने अभी कोरोना को महामारी घोषित नहीं किया है।

मीटिंग के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि यूपी में अबतक कोरोना वायरस के 11 मामले सामने आए हैं। 10 का इलाज दिल्ली और एक का इलाज लखनऊ स्थित किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) में चल रहा है। कोरोना से लड़ने के लिए हम करीब डेढ़ महीने से तैयारी कर रहे थे और हमारे पास बचाव के सारे साधन हैं। 24 मेडिकल कॉलेजों में 448 बर्थ रिजर्व्ड है। इन मेडिकल कॉलेजों में सैंपल जांच की भी सुविधा है।

हर जिले में बनेगा आइसोलेशन वॉर्ड
सीएम योगी ने कोरोना को लेकर बैठक में कई अहम फैसले लिए हैं। इनमें सभी डॉक्टरों और पैरामेडिक्स कोरोना मरीजों का इलाज करने के लिए अभ्यस्त हों, सभी मेडिकल कॉलेजों में आइसोलेशन वॉर्ड बनाया जाए, सभी सीमाओं पर पर्याप्त सर्विलांस सिस्टम लगाया जाए, सभी जिलों के डीएम को राज्य की सीमाओं पर स्क्रीनिंग सेंटरों का निरीक्षण करने का आदेश, सभी अस्पतालों में आइसोलेशन वॉर्ड के लिए उपयुक्त किट और सुरक्षित गियर उपलब्ध कराए जाएं।

योगी ने प्रशासन की तैयारियों का दिया ब्योरा
इसके अलावा सीएम योगी ने कोरोना वायरस के लिए प्रशासन की तैयारियों का ब्योरा दिया। योगी आदित्यनाथ ने बताया कि 820 बेड जिला सरकारी अस्पतालों में हैं। 448 बेड सरकारी और निजी मेडिकल कॉलेज में है। एनआईवी पुणे का सेंटर गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में है। उनके पास वायरस पहचानने की आधारभूत सुविधाएं हैं। वहां भी नमूने लिए जाएंगे। बीएचयू में भी लैब को विकसित करने के निर्देश दिए गए हैं।

यूपी में 11 केस पॉजिटिव
योगी ने बताया, 'आईएमए का सहयोग भी लिया जा रहा है। 11 केस पाजिटिव हैं। 10 का इलाज दिल्ली व एक का लखनऊ में चल रहा है। बेसिक शिक्षा परिषद से सभी स्कूलों में हैंडबिल, पोस्टर व जागरूकता अभियान चलाएंगे। पंचायती राज व ग्राम्य विकास विभाग हर ब्लाक में जागरूकता कार्यक्रम करेगा। माध्यमिक व उच्च शिक्षण संस्थानों में जागरूकता फैलाई जाएगी।'

अभी महामारी घोषित नहीं कोरोना
योगी ने बताया, 'कोरोना को महामारी घोषित नहीं किया गया है लेकिन इस ऐक्ट के तहत कुछ अधिकार सौंपे गए हैं। स्वास्थ्य विभाग जल्द नोटिफिकेशन जारी करेगा। हर व्यक्ति को मास्क लगाने की जरूरत नहीं है। जो पीड़ित है या जो संदिग्ध है वहीं लगाएं। मास्क और ग्लव्स की उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी। कहीं भी स्टॉकिंग या काला बाजारी पर सख्त कार्रवाई होगी।'

20 मार्च को होगी समीक्षा
योगी ने बताया कि जहां परीक्षाएं चल रही हैं वहां परीक्षाएं जारी रहेंगी और जहां परीक्षाएं नहीं शुरू हुई है वहां स्थगित कर दी गई हैं। इसके अलावा बेसिक से लेकर उच्च और तकनीकी कॉलेज, स्किल डिवेलपमेंट से जुड़े सेंटर 22 मार्च तक बंद रहेंगे। बेसिक शिक्षा परिषद की परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। अब 23 मार्च से 28 मार्च तक परीक्षाएं होंगी। हालांकि, 20 मार्च को फिर समीक्षा होगी। जरूरत पड़ने पर आगे बढ़ेंगी।

लखनऊ और आगरा में सामने आए मामले
यूपी में कोरोना वायरस में अब तक जो मामले सामने आए हैं, उनमें आगरा और लखनऊ शामिल है। इससे पहले उत्तराखंड सरकार ने भी 12 वीं तक के सभी स्कूलों को 31 मार्च तक बंद रखने का आदेश जारी कर दिया। इस दौरान केवल बोर्ड परीक्षाएं जारी रहेंगी। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोरोना को महामारी घोषित करने के बाद दिल्ली और हरियाणा सरकार ने भी सभी स्कूलों, कॉलेजों, सिनेमा हॉल को बंद करने का निर्णय लिया है।